afgan cricket

अफगानिस्तानी क्रिकेट के भविष्य पर लटकी तलवार, तालिबानी लीडर ने की क्रिकेट टीम के कप्तान से मुलाकात, क्रिकेट को लेकर कही ये बड़ी बात

तालिबान के अफ्गानिस्तान पर कब्जे के साथ ही कई सवाल खड़े हो गए है. इसी कड़ी में खेल और मनोरंजन को लेकर भी सवालियां निशान बने हुए है. इसी बीच तालिबानी शासन में अफगानिस्तान की क्रिकेट टीम को लेकर उठ रहे सवालों और अफगानिस्तान में क्रिकेट का भविष्य पर बड़ी बात सामने आई है. अफगानिस्तान में क्रिकेट को लेकर एक बड़ी खबर सामने आई है.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार तालिबान लीडर अनस हक्कानी ने अफगानिस्तान की राष्ट्रीय क्रिकेट टीम के कप्तान हशमत शहीदी की मुलाकात की है. बताया जा रहा है कि इस बैठक के दौरान तालिबान के लीडर अनस हक्कानी ने क्रिकेट को समर्थन देने की पुष्टि की है.

क्या होगा अफगान क्रिकेट का भविष्य

खबरों के अनुसार उन्होंने क्रिकेट को मंजूरी देते हुए कहा कि इस्लामिक अमीरात ने अफगान में क्रिकेट की नींव रखी लेकिन हम क्रिकेट का समर्थन करते है.

afganistan cricket

इस दौरान अनस हक्कानी ने हशमतुल्ला शाहिदी और अफगान क्रिकेट टीम और चयन बोर्ड के सदस्यों के साथ लंबी बातचीत भी की.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अफगान क्रिकेटर नूर अली जादरान और अफगान क्रिकेट बोर्ड की पूर्व चयन समिति के अध्यक्ष असदुल्लाह खान भी तालिबान के साथ बैठक के दौरान मौजूद थे.

तालिबानी नेता और अफगानिस्तान क्रिकेट टीम के बीच यह मुलाकात चरमपंथी समूह के पूर्व कप्तान असगर अफगान के साथ हुई मुलाकात के कुछ दिन बाद हुई है. इससे पहले तालिबान कमांडो को अफगान के पूर्व कप्तान असगर अफगान के साथ सेल्फी लेते और खाना खाते हुए भी देखा गया.

वहीं इससे पहले अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड के सीईओ हामिद शेनवारी ने एक बयान में कहा कि अफगानी क्रिकेटरों और उनके परिवार के सदस्यों को तालिबान से कोई खतरा नहीं है, क्योंकि तालिबान खुद बहुत बड़ा क्रिकेट प्रेमी रहा है.

आपको बता दें कि अफगानिस्तान क्रिकेट तेजी से उभर रहा है और आज दुनिया भर में कई अफगानी क्रिकेटर अपनी पहचान बना चुके है. अफगानी क्रिकेटर राशिद खान, मुजीब उर रहमान और मोम्मद नबी जैसे खिलाडी आईपीएल समेत कई फ्रेंचाइजी क्रिकेट में हिस्सा लेते है और अपनी चमक बिखरते है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *