अगर पार्टी हाईकमान मुझे प्रदेश की कमान संभालने का मौका देती हैं तो दूंगा 2 लाख युवाओं को रोजगार

हिमाचल प्रदेश की राजनीति में सियासी भूचाल जैसी स्थिति पैसा होती जा रही हैं. सूबे में कांग्रेस की स्थिति काफी बुरी हो गई है, कांग्रेस राज्य में आज अपना अस्तित्व बचाए रखने की लड़ाई लड़ रही है. वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस के बड़े नेता कांग्रेस आला-कमान के सामने चुनौतियां पेश कर रहे है. इसी क्रम में कांग्रेस के पूर्व मंत्री व वरिष्ठ नेता जीएस बाली ने 2022 में होने वाले चुनावों के लिए अभी से मुख्यमंत्री पद के लिए अपना दावा ठोक दिया हैं.

पूर्व मंत्री जीएस बाली ने अपने जन्मदिवस के मौके पर सोशल मीडिया पर लाइव आकर बात की. इस दौरान स्पष्ट तौर पर सीएम पद के लिए अपनी दावेदारी पेश की.

himachal

उन्होंने लाइव के दौरान कहा कि अगर वो मुख्यमंत्री होंगे तो हिमाचल के 2 लाख युवाओ को रोजगार देने की गारंटी देते है. वही संवाद के दौरान कई युवाओं ने बाली से अगले विधानसभा चुनाव के दौरान सीएम पद के लिए लड़ने का आवाहन किया. इतना ही नहीं युवाओ ने यहां तक कहा कि कांग्रेस के पास बाली के अलावा कोई और विकल्प भी नहीं है.

युवाओ से संवाद में जीएस बाली ने कहा कि मैं जो भी वादा करता हूं उसे हमेशा निभाता आया हूं. मैं आप लोगों से आज एक और वादा करता हूं कि अगर 2022 में मुझे सूबे की कमान संभालने का मौका मिलता हैं तो मैं राज्य के 2 लाख युवाओं को रोजगार देने का वादा करता हूं.

इस दौरान उन्होंने कहा कि बीजेपी सरकार कई बड़े-बड़े वादे करके सत्ता में आई लेकिन सब झूठ निकले. बीजेपी जनता की उम्मीदों पर खरी नहीं उतर रही हैं इसलिए अब जनता ने अपना मन बना लिया है. लेकिन जो मेहनत करेगा लोगों की तकलीफें समझेगा खास तौर पर युवाओं की और उनके लिए काम करेगा, वहीं सत्ता में रहेगा.

बाली ने आगे कहा कि राज्य में सरकार बनाने में कांगड़ा जिला का सबसे बड़ा योगदान रहा हैं, लेकिन इसके बाद भी जिले की हर बार अनदेखी की जाती रही हैं. लेकिन इस बार कांगड़ा की बारी आती है तो सीएम कांगड़ा से ही होना चाहिए.

आपको बता दें कि बाली का कहना है कि जब तक राज्य में कांग्रेस की कमान राजा वीरभद्र सिंह के हाथ में थी तब तक यह अधिकार उनके पास था क्योंकि वो सूबे में सबसे वरिष्ठ नेता थे लेकिन अब कांगड़ा को यह मौका मिलना चाहिए.

Leave a Comment