निर्दलीयों को साथ लेकर, ओवैसी की पार्टी ने गोधरा नगरपालिका पर किया क’ब्जा, भाजपा की करारी हार

दिलचस्प बात यह है कि AIMIM ने गोधरा और मोडासा नगर पालिकाओं में भी पहली बार चुनावी मैदान में उतरने के बावजूद अच्छा प्रदर्शन किया है. गोधरा नगरपालिका में 44 सदस्य हैं और नगरपालिका की सत्ता हासिल करने के लिए 23 नगरसेवकों की जरूरत है।

गुजरात में स्थानीय निकाय चुनावों में भारतीय जनता पार्टी अधिकांश नगर पालिकाओं में जीत हासिल करने में कामयाब हुई है. लेकिन भाजपा को पंचमहल जिले की गोधरा नगरपालिका में बड़ा झ’टका लगा है.

Asaduddin Owaisi Godhara News

हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी की AIMIM ने गोधरा नगरपालिका में भाजपा के हाथों सत्ता छीनकर बड़ी उपलब्धि हासिल की है।

44 सदस्य वाली गोधरा नगरपालिका में सात AIMIM नगरसेवकों को कामयाबी मिली थी. लेकिन 17 निर्दलीय नगरसेवकों के समर्थन से गोधरा नगरपालिका में AIMIM सत्ता में आई है.

निर्दलीय 17 नगरसेवकों में 5 हिंदू नगरसेवक भी शामिल

निर्दलीय 17 नगरसेवकों में 5 हिंदू नगरसेवक भी शामिल हैं जिन्होंने ओवैसी की पार्टी को अपना समर्थन दिया है।

ओवैसी की पार्टी ने गुजरात पहली बार स्थानीय निकाय चुनाव के जरिए गुजरात में अपने कदम रखे हैं. एआईएमआईएम के लिए इसे काफी मजबूत शुरुआत मानी जा रही है.

अहमदाबाद नगर निगम चुनाव में AIMIM के 7 पार्षदों ने चुनाव जीता है तो वहीं मोडासा में भी 9 उम्मीदवारों ने जीत हासिल की है।

दिलचस्प बात यह है कि AIMIM ने गोधरा और मोडासा नगर पालिकाओं में भी पहली बार चुनावी मैदान में उतरने के बावजूद अच्छा प्रदर्शन किया है.

गोधरा नगरपालिका में 44 सदस्य हैं और नगरपालिका की सत्ता हासिल करने के लिए 23 नगरसेवकों की जरूरत है. AIMIM को यहां 24 नगरसेवकों का समर्थन मिला है.

भारतीय जनता पार्टी पहले गोधरा में सत्ता में थी, लेकिन AIMIM ने गोधरा नगरपालिका की सत्ता भाजपा के हाथों से छीनने में कामयाब हुई है. साथ ही दिलचस्प यह भी है कि जिस AIMIM को बीजेपी की बी टीम बताया जा रहा था. उसी AIMIM ने गोधरा में बीजेपी को हरा दिया है।

गौरतलब है कि ओवैसी की एआईएमआईएम ने गोधरा नगरपालिका में 8 उम्मीदवारों को चुनावी मैदान में उतारा था जिसमें से 7 उम्मीदवारों को कामयाबी मिली थी.

गोधरा में सत्ता में आई AIMIM के गुजरात के अध्यक्ष शबीर काबलिवाला का कहना है कि ये एक ऐतिहासिक दिन है, हमने निर्दलीय नेताओं के साथ मिल कर सत्ता हासिल की हैं. गोधरा के लोगों का विकास ही हमारी प्राथमिकता हैं।

(साभार: आजतक)

Leave a Comment