अमेरिका ने अपने नागरिकों को भारत न जाने की सलाह दी, कहा सीरि’या और पाकिस्तान जैसे हैं हालात

भारत और अमेरिका की गहरी दोस्ती में खाई पटती नजर आ रही है. एक तरह जहां अमेरिकी राष्ट्रपति भारत के साथ अच्छे रिश्ते और भारत को अपना सबसे अच्छा दोस्त बताते है वहीं दूसरी तरफ ट्रंप सरकार अपने नागरिकों को भारत की यात्रा नहीं करने की सलाह दे रहा है. बताया जा रहा है कि भारत में मौजूद कोरोना सं’कट और आतं’क का हवाला देते हुए अमेरिका ने यह सलाह अपने नागरिकों को दी हैं.

इतना ही नहीं अमेरिका ने भारत की यात्रा के लिए रेटिंग गिरा कर 4 कर दी है. आपको बता दें कि यह 4 नंबर की श्रेणी वाली रेंटिंग को बेहद ही नीचा मना जाता है. ताजा रेंटिंग के बाद भारत यु#द्ध  ग्रस्‍’त सीरि’या, और आतं’क वा’द का केंद्र पाकिस्‍तान, ईरान, इराक और यमन जैसे देशों की लिस्ट में शामिल हो गया हैं जो गृ’ह यु’द्ध वाले देश माने जाते है.

modi trump

इन देशों के साथ अब भारत भी इस श्रे’णी का हिस्सा बन गया हैं. अमेरिका ने कहा है कि भारत में मौजूदा हालातों में कोरोना वायरस तेजी से फ़ैल रहा हैं. साथ ही देश भर में तेजी से अप’रा’धिक मामले खास तौर पर महिलाओं के खिला’फ और आ#तं’कवा’द भी बढ़ता जा रहा हैं.

इसी के चलते ही अब भारत यात्रा के लिए सु’रक्षि’त देश नहीं रहा, इसलिए अमेरिकी नागरिकों को भारत की यात्रा नहीं करने की सलाह दी जाती है. अमेरिका ने अपनी ट्रेवेल अडवाइजरी में यह सलाह देने के पीछे कुछ अन्य पहलूओं जैसे महिलाओं के खिला’फ बढ़ते तेजी से बढ़ते अप’रा’ध और उ’ग्र वाद को भी कारण बताया है.

वहीं इंडियन टूरिज्‍म एंड हॉस्पिटलटी संघ (FAITH) ने अमेरिका सरकार के इस ट्रेवेल अडवाइजरी पर नारा’जगी जाहिर की हैं. साथ ही FAITH ने भारत सरकार से अपील की है वो अमेरिकी सरकार पर अपनी ट्रेवेल अडवाइजरी को बदलाव करने के लिए दबाव डाले.

फैथ ने कहा कि केंद्र सरकार इस मामले को प्राथमिकता के साथ उठाना चाहिए जिससे भारत को लेकर नका’रा’त्मक छवि बनने से रोकी जा सके. फैथ ने कहा कि वर्तमान में कोरोना सं’क’ट के कारण पर्यटन उद्योग गं’भी’र सं’कट से जूझ रहा है. हालां’कि जल्द ही भारत में यह फिर शुरू होने जा रहा हैं लेकिन शुरुआत से पहले ही इसे तगड़ा झट’का लगा हैं.

बता दें कि अमेरिका सरकार ने अगस्‍त में ट्रेवेल अडवाइजरी जारी की जिसमें भारत को पाकिस्‍तान, सीरि’या, ईरान जैसे हिं’सा प्रभा’वित देशों के साथ रखा. अमेरिकी अडवाइजरी में यह भी कहा गया है कि भारत कोरोना के चलते कभी भी सी’मा बंद करके एयरपोर्ट भी बंद किये जा सकते है.

इसके आलावा भारत सरकार कभी भी यात्रा पर प्र’तिबं’ध लगाकर देश बंद कर सकती हैं, देश में कब लॉकडाउन लग जाए इसे लेकर भी कुछ नहीं कहा जा सकता.

ऐसे में अमेरिकी नागरिकों को समस्या’ओं का सामना करना पड़ सकता है. वहीं अमेरिका के विदेश विभाग ने अपने नागरिकों को विशेष तौर पर जम्‍मू कश्‍मीर और भारत पाक सीमा से लगे इलाके में ना जाने की चेता’व’नी दी हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *