Arvind and sruti

भाजपा के मंत्री ने 53 साल की उम्र में लिए 7 फेरे, जानिए कौन हैं जीवन संगिनी

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय सचिव अरविंद मेनन शुक्रवार को शादी के बंधन में बंध गए हैं. उन्होंने केरल के त्रिशुर में अपने परिवार और करीबी रिश्तेदारों की मौजूदगी में शादी की. 53 साल के मेनन की शादी श्रुति के साथ हुई है. बता दें कि 14 अगस्त को मेनन और श्रुति की सगाई तय हुई थी. पार्टी से जुड़े सूत्रों के अनुसार शादी के बाद अरविंद मेनन केरल में ही पार्टी का कामकाज संभालेंगे.

दक्षिणी राज्यों में बीजेपी का जनाधार बहुत कम है. वहीं केरल में तो और भी ज्यादा बुरा हाल है. यहां पार्टी की पकड़ न के बराबर है. ऐसे में मेनन नई भूमिका निभा सकते है. दरअसल मेनन की पत्नी श्रुति भी राजनीति में मजबूत पकड़ रखती है और वो जल्द ही राजनीतिक तौर पर सक्रिय हो जाएगी.

कौन है अरविंद मेनन

आपको बता दें कि मेनन की पत्नी श्रुति पालक्काड़ जिले की रहने वाली हैं. वहीं मेनन की बात करें तो वो आरएसएस की पृष्ठभूमि से आते है और उन्होंने मध्यप्रदेश में 15 सालों तक संगठन का काम किया है. मेनन को साल 2016 में संगठन महामंत्री पद से कार्यमुक्त कर दीया गया था.

arvind menn

वर्तमान में वो पश्चिम बंगाल के प्रभारी की भूमिका निभा रहे है. मेनन एमपी में अच्छी पकड़ रखते है और उन्हें मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के बेहद करीबियों में गिना जाता है.

केरल के रहने वाले मेनन की परवरिश वाराणसी में हुई है. आरएसएस ने उन्हें भारतीय जनता पार्टी की गतिविधियों को देखने के लिए 2003 में इंदौर भेजा था. यहां जल्द ही वो मध्यप्रदेश बीजेपी के सह संगठन महामंत्री बन गए. 2011 में मेनन को सूबे में संगठन महामंत्री का अहम पद मिला.

इसी दौरान उनकी शिवराज सिंह चौहान से नजदीकियां बढ़ी. मेनन ने सूबे के पार्टी संगठन में भी अपने कुछ वफादार लोग तैयार किए. लेकिन इसमें से कई लोगों पर राज्य प्रशासन में कई स्तरों पर गड़बड़ करने के आरोप भी लगे थे.

2002-03 के दौरान इंदौर आने वाले मेनन ने कई पदों पर अहम भूमिका निभाई. वो विभाग प्रचारक से लेकर इंदौर के संभागीय संगठन मंत्री भी रहे. मध्यप्रदेश में मेनन ने करीब 13 सालों तक संगठन का काम किया और संगठन को मजबूत किया. अब एक बार फिर से मेनन अपने गृहराज्य केरल पहुंच गए है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *