भारत और चीन के रक्षा मंत्रियों की बैठक के बीच चीनी सैनिकों द्वारा पाँच भारतीयों का अपहरण

भारत और चीन के बीच लद्दाख सीमा पर बना तनाव ख’त्म होता नहीं दिख रहा है. एलएसी पर चल रही चीन की हरकतें तनाव को लगातार बढ़ा रही है. तनाव को कम करने और सीमा विवाद पर शांतिपूर्ण समाधान के लिए लगातार बातचीत करने का प्रयास किया जा रहा है. इसी कड़ी में शुक्रवार की रात को शंघाई कोऑपरेशन समिट के इतर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और चीनी रक्षा मंत्री वी फेंग के बीच द्विपक्षीय वार्ता हुई.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार दोनों देशों के रक्षामंत्रियों और प्रतिनिधियों के बीच करीब 2 घंटे 20 मिनट तक बातचीत चली. माना जा रहा है कि दोनों राजनेताओं के बीच सीमा विवाद को सुलझाने को लेकर बात हुई हैं. आपको बता दें कि इस बैठक की मांग चीनी रक्षा मंत्री ने की थी. शुक्रवार की रात 9:30 बजे दोनों नेताओं के बीच यह उच्च स्तरीय बातचीत शुरू हुई.

Rajnath Singh china

वहीं बातचीत के बीच कांग्रेस विधायक ने हैरान करने वाला दावा किया है. पूर्व केंद्रीय मंत्री और अरुणाचल प्रदेश के कांग्रेसी विधायक निनॉन्ग ईरिंग ने हैरान कर देने वाला दावा करते हुए चीन पर गंभीर आरोप लगाया हैं.

उन्होंने दावा किया है कि चीन की सेना ने अरुणाचल प्रदेश सीमा से पांच लोगों को अग’वा कर लिया है. ईरिंग ने कहा कि चीनी आर्मी द्वारा सुबासिरी जिले से पांच लोगों की अ’गवा करने का मामला सामने आया है. साथ ही उन्होंने केंद्र से अपील करते हुए कहा कि मोदी सरकार को इस मामले में जल्द से जल्द दखल देकर पंचों लोगों को छुड़ाना होगा.

वहीं इस मामले को लेकर सोशल मीडिया पर भी कई दावे किये जा रहे है. इसके आलावा अ’गवा हुए लड़कों के नाम भी सामने आ रहे है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार चीन द्वारा अ’गवा किए गए सभी पांच लड़के तागिन समुदाय से संबंधित है. खबरों के अनुसार नाछो क्षेत्र के जंगल से चीनी सैनिक इन्हें उठा ले गए.

बता दें कि यह क्षेत्र सुबानसिरी जिले के अंतर्गत आता है और इस घटना की जानकारी अग’वा किए गए लड़कों में से एक के रिश्तेदार के जरिए सामने आई है. इसी के बाद कांग्रेस विधायक ने इस मामले को ट्वीट करके उठाया है.

वहीं सोशल मीडिया के अनुसार अग’वा किए गए पांच लड़कों के नाम टोक सिंग्काम, दोंग्तु इबिया, प्रसात रिंगलिंग, तानु बेकर और नागरू दिरि बताए जा रहे है. इन लोगों के साथ गांव के ही दो और लोग भी जंगल में गए थे लेकिन वो भागने में सफल रहे.

साभार- जनसत्ता

Leave a Comment