VIDEO: नाबालि’ग बहने अपनी मर्जी से गई थीं लड़कों के साथ घूमने, सीएम गहलोत के बोलते ही- हंगामा

राजस्थान के बारां में दो नाबालिग बहनों से गैं’ग रे प का मामला सामने आया हैं. जिसकी तुलना मीडिया और सोशल मीडिया पर हाथरस कां’ड से की जा रही है. इसे लेकर सूबे के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने नाराजगी जाहिर की है. गहलोत ने कहा कि यह बेहद दुर्भा’ग्यपू’र्ण है. उन्होंने कहा कि मजिस्ट्रेट के सामने लड़कियों ने अपने बयानों ने अपने साथ ज्यादती नहीं होने और मर्जी से लड़कों के साथ घूमने जाने की बात कहीं हैं.

लेकिन इस मामले में लड़कियों के परिवार वालों का आरोप है कि दोनों लड़कियों को 18 से 21 सितंबर तक युवक जयपुर और अजमेर लेकर गए और उनके साथ गैं ग रे प की घट’ना को अंजाम दिया गया. परिवार का आरोप है कि इस मामले में राजस्थान पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की.

ashok gehlot

परिवार के अनुसार पुलिस ने लड़कों को बिना कार्रवाई किये छोड़ दिया, वहीं लड़कियों को सखी केंद्र भेज दिया गया. इस मामले में सीएम गहलोत ने सफाई देते हुए कहा कि हाथरस में हुई घट’ना बेहद ही निंदनीय है, इसकी जितनी भी निंदा की जाए उतनी कम हैं लेकिन दुर्भा’ग्य से बारां में हुई घ’टना को हाथरस की घट’ना से तुलना करके देखा जा रहा है.

उन्होंने कहा कि घट’ना होना एक अलग बात है और कार्रवाई होना दूसरी बात है. घ’ट’ना हुई तो कार्रवाई भी तत्का’ल की गई. इस मामले को लेकर मीडिया का एक बड़ा ध’ड़ा और विपक्ष हाथरस जैसी वी’भ त्स घ’टना से तुलना करके सूबे और देश की जनता को गुमरा’ह कर रहे है.

सीएम ने कहा कि बारां में बालिकाओं द्वारा खुद मजिस्ट्रेट के समक्ष 164 के बयानों में बच्चियों ने अपने साथ ज्यादती नहीं होने की बात कहीं है. साथ ही लड़कों के साथ अपनी मर्जी से घुमने के लिए जाने की बात भी कहीं है. सीएम ने कहा कि बच्चियों का मेडिकल भी करवाया गया है. अब तक जांच में पाया गया है कि लड़कियों के साथ-साथ लड़के भी नाबालिग हैं. मामले में लगातार जांच चल रही है.

वहीं सीएम और पुलिस के बयानों से इतर नाबालिग लड़कियों का कहना है कि 18 सितंबर की देर रात को बारां के दो लड़के उन्हें बह’ला-फुस’ला कर ले गए थे. इसके बाद वो उन्हें कोटा, जयपुर और अजमेर लेकर गए जहां दोनों लड़कों और उनके अन्य साथियों ने मिलकर उन्हें न’शी’ले प दा’र्थों का से’वन कराकर उनके साथ तीन दिनों तक ग’लत का’म किया.

साभार- लाइव हिंदुस्तान

Leave a Comment