VIDEO: CM उद्धव ठाकरे के खिलाफ फेसबुक पर लिखी पोस्ट, शिवसैनिकों ने शख्स को पहले पी’टा फिर मुं’डवाया सिर

महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे को लेकर आ’प’त्ति’जन’क टिप्पणी करने वाले मुंबई के वडाला के एक शख्स की शिवसैनिकों द्वारा पि’टा’ई का मामला सामने आया है. इस घट’ना के वीडियो तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, बताया जा रहा है कि शिवसैनिकों ने पहले उस व्यक्ति की पि’टा’ई की और फिर उसका सर मुंड’वा दिया. वडाला में उस शख्स को शिवसेना कार्यकर्ताओं ने घर से बाहर बुलाया और उसके साथ जमकर मा’र पी’ट की.

सोशल मीडिया पर इस घटना का वीडियो खूब वायरल हो रहा है. न्यूज़ एजेंसी पीटीआई के अनुसार एक पुलिस अधिकारी ने बताया है कि पी’ड़ित और उसके साथ मा’र पी’ट करने के आरोपियों के बीच समझौता हो गया है, अगर पुलिस को कोई शिकायत मिलती है तो पुलिस मामला दर्ज करके कार्रवाई जरुर करेगी.

hiranami

बता दें कि यह मामला पुराना है लेकिन हाल ही में शिवसैनिकों द्वारा कथि’त तौर पर एक पूर्व नेवी ऑफिसर की पिटा’ई के बाद सोशल मीडिया पर वायरल होने लगा है. यह घट’ना पिछले साल दिसंबर की है.

आपको याद दिला दें कि 15 दिसंबर को जामिया मिल्लिया इस्लामिया में पुलिस ने कार्रवाई की थी. इसी कार्रवाई की तुलना सीएम उद्धव ठाकरे ने जालि’यांवा’ला बाग से कर दी थी.

 

पीटीआई ने बताया कि पी’ड़ित शख्स हीरामणि तिवारी है जो राहुल तिवारी के नाम से फेसबुक चलाया था और इसने एक पोस्ट 19 दिसंबर को फेसबुक पर अपलोड की थी जिसके बाद शिवसै’नि’कों ने उसके साथ पी#ट की.

पीटीआई के अनुसार जामिया मिल्लिया में हुई पुलिस कार्रवाई की तुलना 1919 के जलियां’वा’ला बाग कां#ड से करने पर सीएम ठाकरे के लिए तिवारी ने गा#ली वाली भाषा का इस्तेमाल किया गया था.

एक अधिकारी ने बताया कि इसके बाद उसे कुछ लोगों से धम’की मिली जिसके बाद उसने पोस्ट ह’टा दिया था लेकिन इसी बीच रविवार को शिवसेना के नेता समधन जुकदेव और प्रकाश हसबे के नेतृत्व में कई लोग उसके शां’तिन’गर स्थित घर पहुंचे और उसके साथ मा’र पी’ट की और इसके बाद उसका मुंड’न करा दिया गया.

अधिकारी के मुताबिक वडा’ला टीटी पुलिस ने इस मामले में सीआरपीसी की धारा 149 के तहत दोनों पक्षों को नोटिस जारी किया है. जिसके तहत पुलिस किसी भी संज्ञेय अप’रा’ध को रोकती है. हालांकि तिवारी ने इस मामले में शिकायत दर्ज नहीं कराई है.

तिवारी ने दावा किया है कि वो वि’श्व हिंदू परिषद और ब’जरं’ग दल जैसे दक्षि’णपं’थी संगठ’नों के सदस्य रह चुके है. वहीं उन्होंने हम’ला करने वालों के लिए कहा कि लोगों को कानून अपने हाथ में नहीं लेना चाहिए इसकी जगह उन्हें पोस्ट पर कानूनी कार्रवाई करनी चाहिए थी.

Leave a Comment