VIDEO: पहली कोशिश में ही कामयाब, देश के सबसे युवा IPS बने सफीन हसन: जानिए कैसे देश सेवा की ठानी

मेहनत और लग्न से सफलता के वो मुकाम हासिल किये जा सकते हैं जिनके सपने हम सब देखते हैं. ऐसा ही कर दिखाया हैं सफीन हसन ने. 22 वर्षीय सफीन हसन देश के सबसे युवा आईपीएस अधिकारी बन गए हैं. सफीन गुजरात के कणोदरा गांव के रहने वाले हैं. उन्होंने अपने ढूढ़ निश्चय और मेहनत से यह मुकाम हासिल कर लिया हैं. सफीन को ट्रेनिंग के बाद जामनगर में पहली पोस्टिंग प्राप्त हुई हैं.

सफीन ने हाल ही में 23 दिसंबर को सहायक पुलिस अधीक्षक का पदभार संभाला हैं. देश के सबसे युवा आईपीएस बनने का सफीन का सफ़र आसान नहीं रहा, उन्होंने बचपन से ही बहुत मेहनत और बेहद संघर्षपूर्ण जीवन यापन किया हैं.

safin hasan

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार उनके माता-पिता नसीमबानू और मुस्तफा हसन डायमंड कंपनी की एक यूनिट में मजदूरी का काम किया करते थे. आर्थिक तंगी के चलते सफीन को अपनी पढ़ाई के लिए काफी संघर्ष करना पड़ा.

परिवार की आय अधिक नहीं थी और इसमें मुश्किल से ही परिवार की जरूरतें पूरी हो पाती थी. ऐसे में उन्हें अपनी पढाई के खर्च के लिए शुरू से ही संघर्ष करना पड़ा.

परिवार चलाने और बेटे की पढाई के लिए सफीन की मां ने रेस्त्रां और शादियों में रोटियां बनाने का काम शुरू किया. सफीन ने जी-जा’न से मेहनत की और उनकी यह मेहनत रंग भी लगाई, उनकी मेहनत और अच्छी किस्मत ने जोर पकड़ा और उन्हें बिजनेसमैन और सोसाइटी से सपोर्ट हासिल हो गया.

जिसकी मदद से वो अपने सपने को पूरा कर सके. यूपीएससी परीक्षा में सफीन ने 570 रैंक हासिल की थी. उन्होंने आईपीएस बनने के लिए क्वालीफाई कर लिया हालांकि वो आईएएस बनना चाहते थे. इसी के चलते उन्होंने परीक्षा में दुबारा बैठने का फैसला लिया.

लेकिन वो दोबारा में भी परीक्षा को क्लियर नहीं कर सके, वो कहते हैं कि ऐसे में मैने तय किया कि मैं आईपीएस अधिकारी के तौर पर ही अपना करियर जारी रखूंगा और इस अवसर का उपयोग करके देश की सेवा करूंगा.

साभार- एनडीटीवी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *