कोरोना महामारी के बीच बिहार चुनाव के लिए चुनाव आयोग ने जारी की गाइडलाइन- केवल 5 लोग ही कर सकेंगे…

दुनिया में तेजी से फैले घा’तक कोरोना वायरस महामारी ने तेजी से दौड़ रही जिंदगी में अचानक से ब्रेक लगा दिये हैं. बीमारी ख’त्म होने के इंतजार में लागू किये गए लॉकडाउन भी बेअसर साबित हुए हैं. ऐसे में दुनिया को कोरोना वायरस के साथ जीने पर मजबूर होना पड़ रहा हैं. यही वजह हैं कि तमाम सरकारें कोरोना काल में भी देश के विकास के पहिये को एक बार फिर से रफ़्तार देने के लिए लॉकडाउन में ढील दे रही हैं.

इसी तरह भारत में भी तेजी से बढ़ रहे कोरोना संक्र’मण के बीच लॉकडाउन में ढील दी जा रही हैं. सरकार कई जरुरी कार्य फिर से शुरू कर रही हैं. इसी कड़ी में अब चुनाव कराए जाने की तैयारियां भी शुरू कर दी गई हैं.

nirvachan sadan

देश के कई राज्यों में चुनाव और उपचुनाव होने हैं, कोरोना ख’त्म होने का काफी लंबा इंतजार करने के बाद अब कोरोना के साथ ही चुनाव कराए जाने की तैयारियां शुरू हो गई हैं. इसी कड़ी में निर्वाचन आयोग ने नई गाइडलाइंस जारी की हैं.

यह गाइडलाइंस कोरोना संक’ट में चुनाव कराए जाने को लेकर हैं . निर्वाचन आयोग की इन गाइडलाइंस के मुताबिक अब सिर्फ 5 लोग ही घर-घर जाकर चुनाव प्रचार कर सकेंगे.

इसके आलावा गाइडलाइंस में यह भी कहा गया है कि नामांकन का कार्य ऑनलाइन किया जा सकता है और उम्‍मीदवार को सिक्‍युरिटी मनी भी ऑनलाइन जमा करने का विकल्प दिया जाएगा.

चुनाव आयोग ने डोर टू डोर प्रचार के लिए अधिकतम पांच लोगों की सीमा तय की है. इसके आलव यह भी बताया गया है कि रोड-शो, रैली और बैठकों के लिए केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा जारी किये गए सोशल डिस्‍टेंसिंग का पालन करने वाले दिशानिर्देश को फॉलो करना होगा.

वहीं चुनाव प्रचार, बैठक और रोड-शो समेत सभी चुनावी कार्यक्रमों के दौरान मास्‍क और सेनिटाइजर, ग्‍लव्‍ज, पीपीई किट और थर्मल स्केनिंग का इस्तेमाल किया जाना अनिवार्य रहेगा. इतना ही नहीं वोटरों को ईवीएम के पास पहुंचने के पहले ग्‍लव्‍ज भी उपलब्ध कराए जाएंगे.

साभार- एनडीटीवी

Leave a Comment