सुशांत की मौ’त के बाद नेपोटिज्म पर छिड़ी बहस पर बोले सैफ अली खान- मैं भी रहा हूं परिवारवाद का शिकार

सुशांत सिंह राजपूत की मौ’त के बाद से ही भारतीय फिल्म इंडस्ट्री में नेपोटिज्म को लेकर बहस छिड़ी हुई है. इसी बीच बॉलीवुड स्टार सैफ अली खान ने नेपोटिज्म को लेकर कई अहम बातें शेयर की हैं. आपको बा दें कि सैफ अली खान खुद भी एक स्टार किड हैं और हाल ही में उनकी बेटी सारा अली खान भी बॉलीवुड में डेब्यू कर चुकी है. सैफ अली खान का नेपोटिज्म पर बयान चौंकाने वाला है.

सैफ अली खान ने एक बार फिर से नेपोटिज्म को निशाने पर लेते हुए बताया है कि वो खुद भी नेपोटिज्म का शिकार रह चुके हैं लेकिन कोई इस बारे में बात नहीं करता हैं.

saif ali

अभिनेता ने कहा कि देश में गैरबराबरी है और इसे उजागर करने की आवश्यकता है. नेपोटिज्म, फेवरेटिज्म और कैंप्स यह अलग सब्जेक्ट हैं. वहीं यहां तक नेपोटिज्म की बात है तो मैं खुद भी नेपोटिज्म का शिकार रहा हूं लेकिन सबसे बड़ी सच्चाई यह है कि कोई भी इसके बारे में बात नहीं करता हैं.

सैफ ने कहा कि मुझे बहुत ख़ुशी हैं कि फिल्म इंडस्ट्री में से ज्यादा से ज्यादा लोग इस कड़वी सच्चाई को सामने लेकर आ रहे हैं. बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत की अंति’म फिल्म दिल बेचारा में सैफ अली खान ने कैमियो किया है.

सैफ अली खान ने सुशांत सिंह पर बात करते हुए कहा कि वो बहुत ही टैलेंटेड और गुड लुकिंग अभिनेता था. मुझे हमेशा लगता था कि उनका फ्यूचर बहुत ब्राइट होगा. सुशांत मेरे साथ बहुत पोलाइट था और वो मेरी गेस्ट अपीरियंस से खुश भी था.

उन्होंने आगे कहा कि वो कई चीजों के बारे में बात करता रहता है जैसे कि एस्ट्रोनॉमी और फिलॉस्फी के बारे में. मुझे ऐसा लगता था कि उसे मुझसे भी ज्यादा जानकारी थी.

सैफ इससे पहले भी कई बार बॉलीवुड में व्याप्त भाई-भतीजावाद को लेकर अपनी राय रख चुकी है. हाल ही में सुशांत की मौ’त पर दुःख जताने वालों बॉलीवुड सेलिब्रिटीज को ढोंगी करार दिया था. सैफ ने कहा था कि उनके जीते जी किसी ने उनकी केयर नहीं कि और अब झूठा दिखावा कर रहे है.

बता दें कि सैफ ने साल 2017 में एक अवॉर्ड शो के दौरान वरुण धवन और करण जौहर अवार्ड पर मिलने पर टिप्पणी करते हुए इसे नेपोटिज्म रॉक कहा था. आपको बता दें कि सैफ अली खान से पहले कई फ़िल्मी कलाकार बॉलीवुड में हावी हो चुके नेपोटिज्म पर अपनी बेबाक राय कई बार रख चुके हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *