क्या आप पूरी दिल्ली घूम चुके? दिल्ली की ये 12 अंजान मगर दिलचस्प जगहें आपने नहीं देखी होंगी?

दिल्ली में कई गहरे इतिहास और उपलब्धियों में ऐसे कई रत्न छुपे हुए हैं जिन्हें स्थानीय लोग भी अनदेखा कर देते हैं. इसलिए आज हम आपके साथ दिल्ली के कुछ ऐसे ही खास स्थानों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्हें दिल्ली घुमने वाले सैलानियों से लेकर स्थानीय लोगों की भीड़ तक हर कोई अनदेखा कर देता हैं जबकि यह जगहें खुबसुरत होने के साथ-साथ इतिहास महत्व भी समेटे हुए हैं.

सतपुला बाँध

दिल्ली की भीड़-भाड़ से दूर खिड़की विलेज, मालवीय नगर में स्थित यह सतपुला बाँध समृद्ध इतिहास और सुंदर नज़ारे रखता हैं. पानी को इकट्ठा करने के लिए पुराने वक्त में बने सात पुलों के चलते इसका नाम सतपुला पड़ा. वैसे तो ये नदी अब सूख चुकी है लेकिन यहां वास्तुकला का नायाब नमूना देखने को मिलता हैं.

Satpula

दिल्ली वॉर सेमेटरी

दिल्ली छावनी में स्थित दिल्ली वॉर सेमेटरी में दूसरे विश्व युद्ध में ब्रिटिश कॉमनवेल्थ के लिए लड़ने वाले सैनिकों को द’फ़नाया गया हैं. यहाँ चारों ओर हरियाली और ऊंचे स्तम्भ, अनोखे स्मारक देखने को मिलते हैं, यहां करीने से तराशे हुए बगीचे भी हैं.

Delhi War Cemetery

मिर्ज़ा ग़ालिब की हवेली

बारादरी के क़ासिम जान गली, चाँदनी चौक के पास स्थित मिर्जा ग़ालिब की हवेली कुछ समय से चर्चा में रही हैं. उर्दू के मशहूर शायर मिर्ज़ा ग़ालिब की याद में बनाई गई इस प्राचीन धरोहर में एक म्यूज़ियम हैं जहां पर ग़ालिब के कुछ नायब काम सजाए गए हैं. कहा जाता हैं कि ग़ालिब अपनी ज़िंदगी के कुछ ग़ुरबत के दिनों में यहाँ रहते थे.

Haveli Mirza Galib

जहाज़ महल

महरौली में पास की झील में परछाई पड़ने के चलते इसका नाम जहाज महल पड़ा. इस लोदी साम्राज्य के समय बनाया गया. यह परिवार के साथ समय बिताने के लिए अच्छी जगह है.

jahaj mahal

संजय वन

दिल्ली के वसंत कुंज में स्थित यह जगह ऊँची-ऊँची कंक्रीट के इमारतों के जाल, शोर और प्रदूषित हवा में एक हरी भारी जगह प्रदान करती हैं. 780 एकड़ में फैले इस जंगल को जॉगिंग करने और साइकिलिंग करने वाले खूब पसंद करते हैं.

Sanjay Van

चूनामल हवेली

चाँदनी चौक के कटरा नील स्थित यह हवेती शहर के सबसे व्यस्त रास्तों में होने के बाद भी पुराने समय की याद दिलाती है.

chunamal hveli

 

जमली कमली

Jamali Kamali

महरौली में मस्जिद और मक़बरे की इस जोड़ी में महान सूफ़ी संत शेख जमली कम्बोह और अंजान इंसान कमली की क़ब्रें स्थित हैं. एक कब्र पर मस्जिद है जबकि दूसरी पर मक़बरा हैं. यहाँ की नायाब खूबसूरती हर किसी को पसंद आती हैं.

हिजरों का खानका

Hijron ka Khanqah

महरौली के ही वॉर्ड नंबर 6 में स्थित यह जगह खास होने के बाद भी उतनी लोकप्रिय नहीं है. हिजड़ों के लिए लोदी साम्राज्य के वक्त बना यह कब्रिस्तान साफ-सुथरे और शांत माहौल में हैं जहां आपके दिल में  हिजड़ों के प्रति सम्मान जाग उठेगा.

भूली भटियारी का महल

Bhuli Bhatiyari Ka Mahal

बादशाह फ़िरोज़ शाह तुगलक़ का शिकार लॉज रहा यह महल दयनीय हालत में पहुंच चूका हैं. लेकिन दिल्ली रिज के जंगल में मौजूद इसकी वास्तुकला आपको खुश कर देगी. इस किले से कई भूतहा घटनाओं भी सुनने को मिलती हैं.

बिजय मंडल

bijay mandal delhi

14वीं शताब्दी में बेगमपुर में इसे सेना की टुकड़ियों पर निगरानी के लिए बनाया गया था. किलेनुमा इस महल की बनावट काफी अजीब लेकिन रोचक हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *