मोदी सरकार ने की 28 कंपनियों को बेचने की तैयारी, पत्रकार बोले-सब लुटाने के लिए ही तो आए है मोदी जी….

केंद्र की मोदी सरकार पिछले काफी समय से लगातार सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों और अन्य संपतियों को बेच रही है. मोदी सरकार देश को तेजी से निजीकरण की तरफ ले जा रही है, जिसका भारी विरोध भी हो रहा है. लेकिन इसके बाद भी मोदी सरकार लगातार पब्लिक कंपनियों को निजी हाथों में सौंपती जा रही हैं. इसी कड़ी में अब सरकार ने एक और बड़ा फैसला लिया है.

बताया जा रहा है कि मोदी सरकार कुल 28 सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों (पीएसयू) में हिस्सेदारी बेचने की तैयारी कर चुकी है. यह जानकारी वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर द्वारा दी गई है. उन्होंने यह भी  बताया कि इस विनिवेश को कैबिनेट से मंजूरी भी मिल चुकी हैं यानि यह बिक्री हर हाल में होकर रहेगी.

PM Modi

इसे लेकर मशहूर पत्रकार गिरीश मालवीया ने एक लेख लिखा है, तो चलिए पढ़ते है यह लेख-

सही है…पुरखो की कमाई दौलत और सम्पत्ति नालायक औलादे ऐसे ही बेच देती है जैसे आज नरेंद्र मोदी सरकार बेच रही है…निम्न 28 कम्पनियो में से 23 कंपनियों में तो सरकार की हिस्सेदारी बेचने की प्रक्रिया पूरी करने पर काम भी चल रहा है और यह जानकरी आज वित्तमंत्री द्वारा दी गई है.

इन कंपनियों में सरकारी हिस्सेदारी बेचने के लिए मंत्रिमंडल की मंजूरी भी मिल चुकी है. सरकार ऐसे समय में सार्वजनिक कंपनियों में अपनी हिस्सेदारी बेचेगी जब उसे सही कीमत मिले. लेकिन सब जानते है कि अभी कोरोना का’ल चल रहा है और ऐसे में सही कीमत देगा कौन?

अडानी अम्बानी जैसे पूंजीपति तो इन्हें अपनी कीमतों पर ही खरीदेंगे न, रस्ते का माल सस्ते में. कोई उंगली भी नहीं उठा पाएगा, सब लुटाने के लिए ही तो मोदी जी आए है. लुटाए जाइये….आपका ही राज है. 38 प्रतिशत अंधभक्तो के पापों की सजा 62 प्रतिशत जनता को भुगतना होगा. इसी का नाम है लोकतंत्र. बस एक बार आप निम्नलिखित राष्ट्रीय सम्पतियो नाम देख लीजिए-

  1. स्कूटर्स इंडिया लि.
  2. ब्रिज ऐंड रूफ कंपनी इंडिया लि
  3. हिंदुस्तान न्यूज प्रिंट लि.
  4. भारत पंप्स ऐंड कम्प्रेसर्स लि
  5. सीमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लि.
  6. सेंट्रल इलेक्ट्रॉनिक्स लि
  7. भारत अर्थ मूवर्स लिमिटेड
  8. फेरो स्क्रैप निगम
  9. पवन हंस लिमिटेड
  10. एअर इंडिया और उसकी पांच सहायक कंपनियां और एक संयुक्त उद्यम
  11. एचएलएल लाइफकेयर
  12. हिंदुस्तान एंटीबायोटिक्स लि.
  13. शिपिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया
  14. बंगाल केमिकल्स एंड फार्मास्यूटिकल्स लिमिटेड
  15. नीलांचल इस्पात निगम लिमिडेट
  16. हिंदुस्तान प्रीफैबलिमिटेड (HPL)
  17.  इंजीनियरिंग प्रोजेक्ट्स इंडिया लिमिटेड
  18. भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन
  19. कंटेनर कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (CONCOR)
  20. एनएमडीसी का नागरनकर स्टील प्लांट
  21. सेल का दुर्गापुर अलॉय स्टील प्लांट, सलेम स्टील प्लांट और भद्रावती यूनिट
  22. टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड (THDCIL)
  23. इंडियन मेडिसीन ऐंड फार्मास्यूटिकल्स कॉरपोरेशन लिमिटेड (IMPCL)
  24. कर्नाटक एंटीबायोटिक्स
  25. इंडियन टूरिज्म डेवलपमेंट कॉरपोरेशन (ITDC) की कई ईकाइया
  26. नॉर्थ ईस्टर्न इलेक्ट्रिक पावर कॉरपोरेशन लिमिटेड (NEEPCO)
  27. प्रोजेक्ट ऐंड डेवलपमेंट इंडिया लि.
  28. कामरजार पोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *