टाइम मैगज़ीन में शाहीन बाग़ की दादी को जगह मिलने से गोदी मीडिया में मची खलबली, Zee News ने बताया एंटी नेशनल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार के महत्वकांक्षी बिल सीसीए और एनसीआर के खिलाफ हुए शाहीन बाग़ आंदोलन के दौरान सुर्ख़ियों में आई दबंग दादी बिलकीस बानो को टाइम मैगज़ीन में प्रभावशाली व्यक्तियों की सूचि में जगह दी है. आपको बता दें कि टाइम मैगज़ीन द्वारा हर साल दुनिया के 100 प्रभावशाली व्यक्तियों की सूची जारी की जाती हैं. जिसमें इस बार दावा समेत पांच भारतीयों को स्थान दिया गया है.

लेकिन इस बार टाइम मैगजीन की लिस्ट ने गोदी मीडिया में खलबली मचा दी है. जिसकी वजह है कि मैगज़ीन ने अपनी लिस्ट में पीएम नरेंद्र मोदी और बॉलीवुड सुपरस्टार आयुष्मान खुराना के साथ शाहीन बाग़ आंदोलन की प्रदर्शनकारी रही 82 वर्षीय बिलकीस बानों को भी शामिल किया है.

shaheen bhagh

जो गोदी मीडिया को रास नहीं आया. जी न्यूज़ तो मानों सदमे में आ गया और बौखलाहट में जी न्यूज़ ने अपने खास प्रोग्राम में अमेरिकी टाइम मैगज़ीन को जमकर नि’शाने पर लिया. शो के एंकर सुधीर चौधरी ने कहा कि मीडिया का एक वर्ग बिलकीस बानो को खूब पब्लिसिटी दिया करता था.

उन्होंने आगे कहा कि बिलकिस बानो को आंदोलन का चेहरा बनाया गया था जबकि वो आंदोलन नागरिकता कानून के विरोध में था. शाहीन बाग आंदोलन का नतीजा दिल्ली दं’गों के रूप में सामने आया था. उन्होंने दावा करते हुए कहा कि दिल्ली दं’गों की योजना शाहीन बाग में ही तैयार की गई थी.

उन्होंने कहा कि दिल्ली दं’गों के तार शाहीन बाग के आंदोलन से जुड़े हुए है. दं’गों की जांच में यह बात सामने आ रही है. दुनिया के सबसे प्रभावशाली लोगों की लिस्ट में बिलकीस बानो को शामिल करके टाइम मैगजीन ने भारत की संवैधानिक प्रक्रिया और संसद को नीचा दिखाने का प्रयास किया हैं.

इसके साथ ही ज़ी न्यूज़ ने टाइम मैगज़ीन को एंटी नेशनल और टुकड़े-टुकड़े गैं’ग की मानसिकता वाला बताया. इसके साथ ही जी न्यूज़ ने अपनी हेडलाइन में हैशटैग के साथ यह भी चलाया कि टाइम का टाइम गया. इससे अंदाजा लगाया जा सकता हैं कि दबंग दादी ने कैसे अकेले ही पुरे गोदी मीडिया को हिला दिया हैं?

Leave a Comment