Yogi Adityanath

तालों के लिए मशहूर रहे ‘अलीगढ़’ को अब इस नाम से जाना जाएगा, जानिए क्या होगा नया नाम

उत्तर प्रदेश में शहरों और अन्य चीजों का नाम बदलने का सिलसिला अभी भी जारी है. यूपी में भारतीय जनता पार्टी की योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली सरकार आने के बाद से ही लगातार शहर, चोराहे और रेलवे स्टेशन समेत कई जगहों के नाम बदले जा रहे है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार यूपी सरकार जल्द ही एक और शहर का नाम बदलने जा रही है.

खबरों के अनुसार इलाहाबाद के प्रयागराज बनने के बाद अब अलीगढ़ का नंबर आ गया है. बताया जा रहा है कि अलीगढ का नाम बदल कर हरिगढ़ करने की तैयारी जोरो पर चल रही है.

अलीगढ़ बनेगा हरिगढ़

इसी कड़ी में नवगठित जिला पंचायत बोर्ड की बैठक के दौरान जिला पंचायत सदस्य केहरी सिंह और उमेश यादव ने शहर अलीगढ़ का नाम बदल कर हरिगढ़ कर देने का प्रस्ताव रखा है.

Aligarh

इसके अलावा स्व. राजा बलवंत सिंह के नाम से द्वार बनाने की अपील अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के द्वारा की गई है. अमर उजाला की खबर के अनुसार कुछ बीजेपी नेताओं ने धनीपुर मिनी एयरपोर्ट का नाम बदलने की मांग भी उठाई है. उनका कहना है कि इसका नाम पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के नाम पर रखा जाए.

आपको बता दें कि कल्याण सिंह का जन्म अलीगढ़ में हुआ था. इसके आलावा इस दौरान बरौली विधायक ठा. दलवीर सिंह द्वारा चेतनराज सिंह के नाम से द्वार बनाने का प्रस्ताव भी पेश किया गया. इसके आलावा मैनपुरी का नाम बदल कर मयन नगर करने की चर्चाएं भी जोर पकड़ रही हैं.

आपको बता दें कि अलीगढ का नाम बदलने का प्रस्ताव कोहरी सिंह और उमेश यादव ने रखा और इस प्रस्ताव को पास कर दिया गया है. अब इसे अलीगढ़ ज़िला प्रशासन के पास भेजा जाएगा, जिसके बाद यह प्रस्ताव मंजूरी के लिए यूपी सरकार के पास पहुंचेगा.

आपको बता दें कि भाजपा सरकार में इससे पहले भी कई शहरों के नाम बदले गए है. सरकार ने इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज किया था. इसके आलावा हाल ही में फैजाबाद का नाम बदलकर अयोध्या कर दिया गया. हालांकि इन नामों को लेकर राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी चलता रहा है.

लेकिन सरकार और बीजेपी की तरफ से सफाई देते हुए कहा गया कि इन शहरों की सांस्कृतिक और इतिहास को ध्यान में रखते हुए ऐसा किया गया है. इसके आलावा स्थानीय मांग के अनुरूप सरकार द्वारा यह बदलाव किये गए है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *