उत्तर प्रदेश में बनेगी ‘गाय सफारी’ योजना, योगी सरकार को मंत्री का प्रस्ताव

उत्तर प्रदेश में एक मंत्री ने प्रस्ताव दिया है कि राज्य में गाय सफारी बनाए जाना चाहिए. मंत्री के अनुसार इस योजना के तहत आवारा पशुओं से छुटकारा मिलेगा, और यह है एक पर्यटन स्थल के रूप में भी विकसित हो सकती है. उत्तर प्रदेश के डेयरी विकास मंत्री ने अपने विभाग में अधिकारियों को ऐसे जमीनी हिस्सों की पहचान करने के लिए आदेश दे दिए हैं.

ऐसी जगह देखने को कि वहां पर आवारा पशुओं को रखा जा सके, जहां वे आसानी से खुले में घूम फिर भी सकें. उत्तर प्रदेश के मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी, जल्द ही इस प्रस्ताव को मुख्यमंत्री योगी के सामने रख सकते हैं.

उत्तर प्रदेश में गायों के लिए बनेगी ‘गाय सफारी’ योजना

Uttar Pradesh Gay Safari Yojna

मंत्री के सीएम के साथ होने वाली बैठक में और भी कई इससे संबंधित और भी कई मुद्दों पर विस्तार से चर्चा होगी.  यूपी सरकार के डेयरी विकास मंत्री के ने कहा है, कि ऐसे लाखों को सफारी के तौर पर विकसित किया जाएगा फिलहाल मथुरा में यह किया गया है.

वहां पर पशुओं को बांधा नहीं जाता खुले में रखा जाता है, और बहुत से लोग उन्हें देखने के लिए आते हैं. तो इस तरह से यह योजना बाद में एक पर्यटन स्थल के रूप में भी विकसित हो सकती है. इसके साथ ही उन्होंने लोगों से आवारा पशुओं को गोद लेने के लिए भी कहा है. इससे उनको एक नया जीवनदान मिलेगा.

उत्तर प्रदेश के मंत्री की इस योजना पर अगर अमल हो तो, शायद आवारा पशुओं से निजात मिलने की उम्मीद की जा सकती है. अगर लोग अपने पशुओं को आवारा न छोड़े, तो उसे दूसरों की परेशानी न केवल कम होगी बल्कि, सड़कों पर जो रात के समय आवारा पशु बैठे रहते हैं. और उससे कई बार दुर्घट’ना होने की संभावना रहती है.

इससे भी लोगों को राहत मिलेगी. इसके अलावा यह भी सच है कि ग्रामीण क्षेत्रों में अक्सर देखा जाता है कि जो पशु या गाय बूढ़ी हो जाती हैं, ऐसे लोग उन्हें या तो बेच देते हैं या फिर खुले में आवारा घूमने के लिए छोड़ देते हैं. ऐसे लोगों पर भी कार्यवाही होनी चाहिए जो लोग अपने पशुओं को खुले में छोड़ देते हैं.

Leave a Comment