suman rao

पश्चिम बंगाल में बीजेपी के बुरे दिन जारी, एक और विधायक ने छोड़ा साथ, बीजेपी की करारी हार को लेकर कही ये बड़ी बात

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में करारी हार मिलने के बाद से ही भारतीय जनता पार्टी की सूबे में मुश्किलें कम होती नजर नहीं आ रही हैं. बीजेपी हार के करारे झटके के उभरी भी नहीं है कि उसे लगातार नए नए झटके लगते जा रहे है. शनिवार को बीजेपी के एक और विधायक ने पार्टी को झटका देते हुए तृणमूल कांग्रेस का दामन थाम लिया.

बीजेपी दल बदल कानून की ध’मकी देती रही लेकिन बीजेपी विधायक सुमन रॉय ने एक नहीं सुनी और बीजेपी छोड़ तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो गए. खास बात यह है कि सुमन रॉय विधानसभा चुनाव से पहले ही तृणमूल छोड़ भाजपा में शामिल हुए थे.

suman roy

लेकिन अब वो पश्चिम बंगाल विधानसभा उपचुनाव से पहले वापस टीएमसी में लौट आए है. सूबे के कालियागंज से बीजेपी के टिकट पर विधायक चुके गए सुमन रॉय ने तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और सूबे की सरकार में मंत्री पार्थ चटर्जी की मौजूदगी में पार्टी ज्वाइन की.

टीएमसी में वापसी करने के बाद विधायक सुमन रॉय ने कहा कि कुछ परिस्थितियों के चलते मुझे बीजेपी के टिकट से कालियागंज सीट पर चुनाव लड़ना पड़ा था. लेकिन मैं दिल से हमेशा ही टीएमसी में था.

उन्होंने कहा कि मैं मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के प्रयासों का समर्थन करने के लिए वापसी करके पार्टी में आया हूं. इस दौरान उन्होंने टीएमसी छोड़ने के लिए माफ़ी भी मांगी.

वहीं दल बदलने के बाद सुमन रॉय भाजपा पर जमकर बरसे. उन्होंने कहा कि बीजेपी पश्चिम बंगाल की संस्कृति के मुताबिक सूबे में फिट नहीं बैठ रही है. बीजेपी हमेशा बांटने की राजनीति करती है जिसका बंगाल कभी भी समर्थन नहीं कर सकता हैं.

उन्होंने कहा कि इसलिए ही बीजेपी को बंगाल की जनता ने अस्वीकार कर लिया और ममता बनर्जी को पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में शानदार जीत हासिल हुई.

वहीं इससे पहले बीजेपी विधायक विश्वजीत दास और तन्मय घोष भी बीजेपी छोड़ टीएमसी में शामिल हो चुके है. जिसके बाद पश्चिम बंगाल बीजेपी ने दल बदलने वाले विधायकों के खिलाफ दल बदल कानून के तहत कार्रवाई करने की चेतावनी दी थी.

इसी बीच शनिवार को निर्वाचन आयोग ने सूबे में खाली पड़ी विधानसभा सीटों को भरने के लिए उपचुनाव कराने के लिए तारीखों का ऐलान कर दीया है. उपचुनाव की घोषणा सीएम ममता बनर्जी के लिए भी राहत की खबर है. 30 सितंबर को सूबे में उपचुनाव कराने का ऐलान किया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *